Alone Shayari, Shayarion Loneliness, Tanhayi Shayari feeling sad & alon firstloves.in
Spread the love

जिंदगी देने वाले – मरता छोड़ गये,
अपनापन जताने वाले तन्हा छोड़ गये,
जब पड़ी जरूरत हमें अपने हमसफर की,
वो जो साथ चलने वाले रास्ता मोड़ गये।,


बदलना आता नही हमे मौसम की तरह,
हर एक रुत में तेरा इंतज़ार करते है,
ना तुम समझ सकोगे जिसे कयामत तक,
कसम तुम्हारी तुम्हे हम इतना प्यार करते है,


बन के अजनबी मिले थे जिन्दगी के सफर में,
इन यादों के लम्हों को मिटायेंगे नही,
अगर याद रखना फितरत है आपकी,
तो वादा है हम भी आपको कभी  भुलायेंगे नही,


दुनिया की भीड़ में चाहे इंसान सबकुछ भूल जाए,
कितनी भी मस्ती में खो जाए,
पर लेकिन अकेले में उस को ही याद करता है,
जिसे वो दिल से प्यार करता है,


तेरी याद मे आशुओ का समन्दर बना लिया ”
तन्हाई के शहर मे अपना घर बना लिया ”
सुना है  लोग पूछते है पत्थर को ;
इसलिए तुमसे जुदा होने के बाद दिल को पत्थर बना लिया .”


आँखों में बस के दिल में समा कर चले गए ,
ख़्वाविदा ज़िंदगी थी जगा कर चले गए ,
लब थर थरा के रह गए लेकिन वो ऐ चिराग़ ,
जाते हुए निगाह मिलाकर चले गये,


Na wo Sapna Dekho jo Toot Jaye,”
Na wo Hath Thamo jo Choot Jaye,”
Mat Aane do Kisi ko Itna Karib ke ,”
Uske Dur Jane se Insaan Khud se Ruth Jaye,”


पत्थर की दुनिया जज़्बात नही समझती,”
दिल में क्या है वो बात नही समझती,”
तन्हा तो चाँद भी सितारों के बीच में है”,
पर चाँद का दर्द वो रात नही समझती,”


प्यार ने ये कैसा तोहफा दे दिया,”
मुझे गमों ने पत्थर बना दिया,”
तेरी यादों में ही कट गई ये उमर,”
दिल कहता रहा तुझे कब का भुला दिया।


शमां जिसको भी जलाती है, वो परवाने बन जाते है,”
कुछ हासिल करना ही इश्क कि मंजिल नही होती,”
किसी को खोकर भी, कुछ लोग दिवाने बन जाते है,”


कभी सर्दी कभी गर्मी तो कुदरत के नजारे है.”
प्यास तो उन्हे भी लगती जो दरिया के किनारे है,”


जा माफ किया जी ले अपनी मर्जी की जिंदगी…….
हम मोहब्बत के बादशाह है बेवफा के मुंह नहीं लगते….


हमने भी कभी प्यार किया था,”
थोड़ा नही बेशुमार किया था,”
दिल टूट कर रह गया,”
जब उसने कहा, अरे मैने तो मज़ाक किया था…


लोग कहते हैं किसी एक के चले जाने से जिन्दगी अधूरी नहीं होती,”
लेकिन लाखों के मिल जाने से उस एक की कमी पूरी नहीं होती है,”


शक का कोई ईलाज नहीं होता,”
जो यकीं करता है कभी नराज नहीं होता,”
वो पूछते है हमसे कितना प्यार करते हो,”
उन्हे क्या पता मोहब्बत का हिसाब नहीं होता,”


कभी उसने भी हमें चाहत का पैगाम लिखा था,”
सब कुछ उसने अपना हमारे नाम लिखा था,”
सुना है आज उनको हमारे जिक्र से भी नफ़रत है,”
जिसने कभी अपने दिल पर हमारा नाम लिखा था,”


Taare gin gin k kte sari rain ,”
Tere dars ko taras gye nain ,”
Dil ab kahi lgta hi nhi…
Tu Jo aa jay to aaye ga chan ,”
Aapne hi jakhmo ko khud apne ,”
Hatho se ha siyaaa,”
O mere sathiya,tune ye Kya kiya ,”


यूं ही हम दिल को साफ़ रखा करते थे ,”
पता ही नहीं था कि कीमत चेहरों की होती है ,”


 

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.